हि‍मशिक्षा शैक्षिक समाचारों/ सूचनाओं और विचार विमर्श का स्‍वैच्छिक, गैर सरकारी और अव्‍यवसायिक मंच। आप शैक्षिक लेख शिक्षा से जुड़ी जानकारी और अपनी पाठशाला की गतिविधियों की जानकारी इस मंच पर सांझा कर सकते है। हिमशिक्षा के लिए शैक्षिक गतिविधियों को प्रेषित करें। आप भी इस मंच को सहयोग दे सकते है आप सम्‍पर्क करें हिमशिक्षा की जानकारी आप मेल से अपने मित्रों को दें सकते है आपका ये कदम हमें प्रोत्‍साहित करेगा Email this page

कविता - पर्यावरण दिवस -- खुशबू

पर्यावरण की बात निराली,
जगह जगह पर हरियाली।
प्रकृति का प्यारा है पर्यावरण
यहीं पर होता है
जीवन और मरण,
पर्यावरण हमें सब कुछ देता
बदले में कुछ नहीं है लेता।
पेड़ पौधों के बिना है
धरती खाली,
पेड़ पौधे लगाकर 
पर्यावरण के बनेंगे हम माली।
पर्यावरण को साफ रखेंगे 
प्रदूषण को ना माफ करेंगे।
हमें अपना कर्तव्य निभाना है
पर्यावरण को बचाना है।


खुशबू 
नौवीं वीं कक्षा की छात्रा 
गवर्नमेंट हाई स्कूल ठाकुरद्वारा 
कांगड़ा हिमाचल प्रदेश

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें