पायल बनेगी एनरोलमेंट एंबेसेडर

शिक्षा के मंदिरों से दूर नौनिहालों को शिक्षा की मुख्य धारा से जोड़ने की मुहिम में कसाकड़ा मिडल स्कूल की पायल हिमाचल में एनरोलमेंट की ब्रांड एंबेसेडर बनेगी। हाल ही में शिमला में संपन्न हुई प्रारंभिक शिक्षा विभाग और सर्वशिक्षा अभियान के अधिकारियों की बैठक में पायल की सफलता की गूंज रही। चंबा की नन्ही परी के प्रयासों की विभाग और एसएसए के उच्चाधिकारियों ने बैठक के दौरान जमकर तारीफ  की और उसे एनरोलमेंट की ब्रांड एंबेसेडर के रूप में पेश करने का निर्णय लिया गया है। बहरहाल सातवीं कक्षा की छात्रा पायल की मुहिम की धमक सरकार तक पहुंच गई है। जानकारी के अनुसार गुरुवार को शिमला में प्रारंभिक शिक्षा विभाग के समस्त उपनिदेशकों के साथ-साथ एसएसए के परियोजना अधिकारियों की बैठक में प्रारंभिक शिक्षा उपनिदेशक जिला चंबा सुशील पुंडीर ने पायल की उपलब्धि को उच्चाधिकारियों के समक्ष रखा। जिस पर विभाग और एसएसए के परियोजना निदेशक समेत समस्त जिला के अधिकारियों ने पायल की जमकर तारीफ  की और सबने पायल को हिमाचल में एनरोलमेंट की ब्रांड एंबेसेडर के रूप में पेश करने का ऐलान किया। प्रारंभिक शिक्षा उपनिदेशक जिला चंबा सुशील पुंडीर ने खबर की पुष्टि करते हुए बताया कि उच्चाधिकारियों के समक्ष पायल को राज्य स्तरीय सम्मान देने की सिफारिश भी की गई है। उन्होंने बताया कि जिला स्तर पर प्रारंभिक शिक्षा विभाग ने पायल को स्कूल में जाकर सम्मानित करने का निर्णय लिया है। उधर, सर्वशिक्षा अभियान के जिला परियोजना अधिकारी जितेंद्र कुमार ने बताया कि राज्य परियोजना निदेशक ने पायल से संबंधित ब्यौरा जुटाकर रिपोर्ट भेजने के निर्देश दिए हैं। जल्द ही जिला कार्यालय इस संबंध में रिपोर्ट तैयार कर राज्य परियोजना कार्यालय को भेज देगा। उल्लेखनीय है कि पायल ने बीच में पढ़ाई छोड़ चुके दस नौनिहालों को शिक्षा के प्रति प्रेरित किया और इन बच्चों ने अब स्कूल में भी प्रवेश ले लिया है

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें