छठी कक्षा के बच्चों को भी मिलेगा वजीफा

हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड ने शिक्षा में गुणवत्ता लाने के लिए छठी कक्षा के छात्रों को स्कॉलरशिप देने का निर्णय लिया है। इसके लिए बोर्ड छठी कक्षा के छात्रों का विशेष टेस्ट लेगा। इसमें मैरिट के प्रत्येक ब्लॉक के पांच छात्रों का चयन किया जाएगा और तीन वर्ष तक एक हजार रुपए की दर से छात्रवृत्ति दी जाएगी। मैट्रिक परीक्षा के आधार पर 400 छात्रों को दी जाने वाली छात्रवृत्ति की राशि 6000 से बढ़ाकर 7200 रुपए वार्षिक के हिसाब से दो वर्ष तक छात्रवृत्ति दी जाएगी। जमा दो के आर्ट्स स्ट्रीम के 100 छात्रों की छात्रवृत्ति राशि 8400 से बढ़ाकर 10 हजार कर दी गई है। इसके अलावा जमा दो के ही साइंस स्ट्रीम के सौ छात्रों को सालाना मिल रही 10 हजार की स्कॉलरशिप बढ़ाकर स्ट्रीम 12 हजार कर दी गई है। नौवीं और  जमा एक की कक्षाओं के लिए बोर्ड सभी विद्यालयों को प्रश्नपत्र उपलब्ध करवाएगा। पेपर मुद्रण का खर्चा 50 बोर्ड तथा 50 शिक्षा विभाग करेगा। स्कूल  अपने स्तर पर उत्तरपुस्तिकाओं का मूल्यांकन करेगा और बोर्ड सैंपल के तौर पर उक्त मूल्यांकन की समीक्षा समय-समय पर करेगा।
source:divya himachal

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें